लोकसभा चुनाव के अखाड़े में कांग्रेस कमजोर खिलाड़ी:प्रशांत किशोर

चुनावी रणनीतिकार और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने कहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव की लड़ाई बीजेपी और महागठबंधन के बीच होगी. उनके मुताबिक, कांग्रेस अभी भी एक मजबूत विपक्ष की भूमिका में नहीं है. प्रशांत किशोर ने न्यूज एजेंसी एएनआई से यह बात कही.

प्रशांत किशोर ने साल 2014 में नरेंद्र मोदी और 2015 में नीतीश कुमार के लिए चुनावी रणनीतिकार के तौर पर काम किया था. वह पिछले साल सितंबर में जेडीयू में शामिल हुए थे. जेडीयू में शामिल होने के एक महीने बाद उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया था.

क्या अमित शाह के सुझाव पर प्रशांत किशोर बने जेडीयू उपाध्यक्ष?

यह पूछे जाने पर कि क्या बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जेडीयू उपाध्यक्ष बनाने के लिए उनका नाम सुझाया था, प्रशांत किशोर ने कहा कि मीडिया ने इस बारे में नीतीश कुमार का बयान तोड़-मरोड़ कर पेश किया. उन्होंने कहा, ”नीतीश कुमार ने कहा था कि यह सिर्फ जेडीयू का ही फैसला नहीं था बल्कि इस पर हमारे गठबंधन की भी मंजूरी थी.” उन्होंने कहा, ”यह साफ तौर पर बीजेपी और जेडीयू के बीच आपसी समझ को दिखाता है. हम जो भी फैसला लेते हैं, उसे मिलकर लेते हैं”

लोकसभा चुनाव से पहले प्रशांत किशोर को मिला ये काम

आगामी लोकसभा चुनाव के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि उन्हें युवाओं को पार्टी से जोड़ने का काम मिला है. उन्होंने कहा, ”मुझे युवा प्रतिभाओं को राजनीति की तरफ लाने का काम दिया गया है.” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें आगामी चुनाव में बिहार में एनडीए के जीतने पर भरोसा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *